Blog
Home > Blogs > पेट में गैस की समस्या का समाधान

पेट में गैस की समस्या का समाधान

पेट में गैस की समस्या का समाधान

May 29, 2019

डाइजेशन एवं पेट से संबंधित समस्‍याओं में गैस बनना सबसे आम है। गरिष्‍ठ भोजन या कुछ तला-भुना खाने पर पेट में गैस बनने लगती है। गैस का दर्द इतना असहनीय होता है कि सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है। पेट में गैस बनने पर पेट दर्द व पेट में भारीपन महसूस होने लगता है। 


इसके अलावा आंखों में जलन और उल्‍टी की समस्‍या भी देखने को मिलती है। पेट में गैस बनने पर सिरदर्द की शिकायत भी हो सकती है। इसलिए अब अगली बार आपको जब भी इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई दे तो समझ लें कि आपके पेट में गैस बन रही है। 


पेट में गैस बनने पर जितना जल्‍दी हो सके समाधान कर लें वरना ये समस्‍या बढ़ने पर बहुत ज्‍यादा तकलीफ देती है। इसका ही एक रूप हाइपरएसिडिटी है जिसमें कुछ भी भारी या तली हुई चीजें खाने पर पेट में दर्द उठने लगता है। 


देखा जाए तो पेट में गैस बनना एक आम समस्‍या है लेकिन अगर इसे अनदेखा किया जाए तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। यहां तक कि इसकी वजह से आप किसी बड़ी बीमारी का शिकार भी हो सकते हैं। गैस के कारण कब्‍ज, अल्‍सर जैसे रोग होने का भी खतरा रहता है। 


पेट में गैस बनने की समस्‍या को घर में मौजूद चीजों एवं घरेलू उपायों से भी ठीक किया जा सकता है। आज इस लेख के ज़रिए हम आपको पेट में गैस की समस्‍या के घरेलू उपचार के बारे में बता रहे हैं। अगर आपको भी गैस बनने की दिक्‍कत होती रहती है तो इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें। 


बेकिंग सोडा 


•    कैसे प्रयोग करें:

  •    एक गिलास पानी में एक चम्‍मच बेकिंग सोड़ा मिलाएं। 
  •     जब भी पेट में गैस बने या गैस की वजह से दर्द महसूस हो तो इस पानी को पी लें। 

•    बेकिंग सोडा के फायदे: 

 

  •     गैस बनने पर पेट में जलन होती है। बेकिंग सोडा एंटासिड की तरह काम करता है। बेकिंग सोड़ा को पानी में मिलाकर पीने से पेट में एसिड का स्‍तर ठीक रहता है। 

एलोवेरा 


•    कैसे प्रयोग करें: 

  •     दो चम्‍मच ताजा एलोवेरा जैल और एक गिलास पानी लें। 
  •     पानी में एलोवेरा जैल को अच्‍छी तरह से मिक्‍स कर के पी लें। 
  •     पेट में गैस बनने से राहत पाने के लिए एक दिन में एक-दो गिलास पी सकते हैं। 

•    एलोवेरा जैल के फायदे: 

  •     पेट में गैस बनने पर जलन होना आम बात है। एलोवेरा जैल इसका सबसे बेहतर उपाय है।
  •     एलोवेरा जैल में सूजन-रोधी (एंटी-इंफ्लामेट्री) गुण होते हैं जो गैस बनने पर पेट की अंदरूनी परत में आने वाली सूजन को कम करने में मदद करते हैं। 

ग्रीन टी


•    कैसे प्रयोग करें: 

  •    एक कप पानी को अच्‍छी तरह से गर्म कर लें। 
  •    अब इसमें शहद डालने के बाद ग्रीन टी बैग या पाउडर डालें। 
  •    कुछ देर के लिए इसे छोड़ दें और इसके बाद इस पानी को पी लें। 
  •    दिनभर में लगभग दो कप ग्रीन टी पी सकते हैं। 

•    ग्रीन टी के फायदे: 

  •    ग्रीन टी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट्स मौजूद होते हैं जो पेट की अंदरूनी परत पर सीधा असर करते हैं। 
  •    रोज़ ग्रीन टी पीने से पुरानी से पुरानी गैस की समस्‍या भी दूर हो जाती है। 
  •    वैज्ञानिकों ने भी इस बात की पुष्टि की है कि ग्रीन टी पेट के कैंसर को भी दूर करने में मदद करती है। 

सेब का सिरका 


•    कैसे प्रयोग करें: 

  •    एक चम्‍मच शहद, एक चम्‍मच सेब का सिरका (एप्‍पल सिडर विनेगर) और एक गिलास पानी लें। 
  •    इन तीनों चीजों को अच्‍छी तरह से मिक्‍र करें। 
  •    दिन में एक या दो बार इस मिश्रण का सेवन कर सकते हैं। 

•    सेब के सिरके के फायदे: 

  •  पेट में बनने वाले एसिड को कम करने में सेब का सिरका कारगर होता है। 
  •   गैस बनने पर सूक्ष्‍मजीव पेट की अंदरूनी परत को नुकसान पहुंचाने लगते हैं। सेब का सिरका इन सूक्ष्‍मजीवों को नष्‍ट करता है। 
  •   इस मिश्रण को शहद के साथ भी ले सकते हैं। 

नारियल तेल 


•    कैसे प्रयोग करें: 

  •     शुद्ध नारियल तेल में खाना पकाने से भी पेट में गैस बनने की समस्‍या से राहत पाई जा सकती है। 
  •    भोजन में दो से तीन चम्‍मच नारियल तेल का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 

•    नारियल तेल के फायदे: 

  •     गैस बनने पर पेट की अंदरूनी परत पर ऑक्‍सीडेटिव स्‍ट्रेस (शरीर में फ्री रेडिकल्‍स और एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स के बीच असंतुलन) बढ़ने लगता है। नारियल तेल ऑक्‍सीडेटिव स्‍ट्रेस को कम करता है। 
  • पेट में गैस बनने के कई घरेलू उपचार हैं लेकिन अगर आप गैस से तुरंत राहत पाना चाहते हैं तो Gas-o-fast लें। Gas-o-fast मिनटों में पेट की गैस को दूर करता है।
     



Your Thoughts